जबलपुर: अस्पताल में आग लगने से 8 लोगों की मौत, सीएम ने की 5-5 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा

jabalpur-fire-accint-one
Share

जबलपुर के निजी अस्पताल न्यू लाइफ मल्टीस्पेशलिटी में सोमवार दोपहर भीषण आग लग गई. आग में अभी तक 8 लोगों की मौत हुई है. दमोह नाका शिवनगर में स्थित इस अस्पताल में जैसे ही आग लगी वैसे ही हड़कंप मच गया. देखते ही देखते आग ने पूरे अस्पताल को अपनी चपेट में ले लिया. जो लोग ऊपरी मंजिल पर थे, उन्होंने खिड़कियों से कूदकर जान बचाई. लेकिन, निचली मंजिल पर मौजूद लोग खुद को नहीं बचा सके. सूचना मिलते ही रेस्क्यू टीम और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए. घंटों की मशक्कत के बाद रेस्क्यू टीम आग पर काबू पा सकी. इस मामले पर मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि घटना की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी. इस हादसे के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों के लिए 5-5 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है.

सीएम ने इस घटना में घायल हुए लोगों को लिए 50-50 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की है. इससे पहले सीएम ने इस हादसे पर दुख जताया था. उन्होंने ट्वीट किया- ‘जबलपुर के न्यू लाइफ अस्पताल में आग से हुई दुर्घटना में अमूल्य जिंदगियों के असमय निधन के समाचार से हृदय दु:ख से भरा हुआ है. ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने एवं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं. ।। ॐ शांति ।।  जबलपुर के एक अस्पताल में भीषण अग्नि दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ है. स्थानीय प्रशासन और कलेक्टर से निरंतर संपर्क में हूं. मुख्य सचिव को संपूर्ण मामले पर नजर बनाये रखने के लिए निर्देश दिया है. राहत एवं बचाव के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं.’

अस्पताल में तेजी से फैली आग, इन मृतकों की हुई पहचान
8 में तीन मृतकों की पहचान हो गई है. इनमें महिमा, सुहासिनी और वीर सिंह शामिल हैं. बता दें, इस अस्पताल के बारे में फिलहाल ज्यादा जानकारी नहीं है. ये अस्पताल किसका है, इसमें कितना स्टाफ है इसकी जानकारी जुटाई जा रही है. बता दें, इस घटना का पता उस वक्त चला जब कुछ लोग दमोह नाका से निकल रहे थे और उन्होंने अस्पताल में आग देखी. लोगों ने उस वक्त चीख-पुकार भी सुनी. लोगों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस और फायरब्रिगेड को दी. लेकिन, आग इतनी भीषण थी कि जब तक फायरब्रिगेड और पुलिस मौके पर पहुंचती, तब तक आग चारों तरफ फैल गई थी. इसकी सूचना मिलते ही एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, कलेक्टर इलैया राजा टी, सीएमएचओ रत्नेश कुररिया, फायर ब्रिगेड ऑफिसर कुशाग्र ठाकुर, सीएसपी अखिलेश गौर, एएसपी गोपाल खांडेल, एएसपी प्रदीप शेंडे एवं 5 थानों के टीआई अधिकारी कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे…. News18

Leave a comment