झारखंड कैश कांड में 3 विधायकों समेत 5 अरेस्ट, तीनों MLAs कांग्रेस से निकाले गए

untitled-design-15_1-sixteen_nine
Share

पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में शनिवार को कांग्रेस के तीन विधायकों को 48 लाख कैश के साथ पकड़ा गया था। हावड़ा पुलिस ने मामले में तीनों विधायकों समेत एसयूवी के ड्राइवर और एक सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है। हावड़ा की SP स्वाति भंगालिया ने बताया कि पांचों कों आज कोर्ट में पेश किया गया। तीनों को 10 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

उधर, झारखंड कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने बताया कि तीनों कांग्रेसी विधायकों को सस्पेंड कर दिया गया है। इरफान अंसारी (जामताड़ा), राजेश कच्छप (खिजरी) और नमन विक्सल कोंगाड़ी (कोलेबिरा) के खिलाफ रांची के अरगोड़ा थाने में FIR दर्ज कराई गई है।

कांग्रेस के बेरमो विधायक अनूप सिंह उर्फ कुमार जयमंगल सिंह ने रविवार को सुबह 11 बजे प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर के साथ अरगोड़ा थाने में तीनों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। जयमंगल ने आरोप लगाया कि तीनों विधायक कोलकाता के रास्ते गुवाहाटी जाने वाले थे।

जहां उनकी मुलाकात असम के CM हेमंत बिस्व सरमा से होनी थी। इन्हें सरकार गिराने के बाद 10 करोड़ रुपए और मंत्री पद ऑफर किया गया था। हालांकि सरमा ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा- मैं कांग्रेस में 22 साल रहा। कई टॉप नेताओं से बातचीत होती रहती है।

कांग्रेस ने ऑपरेशन लोटस का आरोप लगाया
हालांकि, पार्टी ने पहले बयान दिया था कि भाजपा का ऑपरेशन लोटस बेनकाब हो गया है। झारखंड में भाजपा विपक्ष में है और झारखंड मुक्ति मोर्चा सबसे बड़ी पार्टी है। उसने कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाई है। उधर, इन विधायकों में से एक के करीबी ने कहा है कि 40-50 लाख रुपए में सरकार नहीं गिराई जा सकती है।

कैश का असम कनेक्शन, दिल्ली में BJP से मीटिंग
पुलिस ने अभी कैश के सोर्स का खुलासा नहीं किया है। कुछ रिपोर्ट्स में कांग्रेस सूत्रों के हवाले से ही दावा किया जा रहा है कि इस कैश का असम कनेक्शन है। इतना ही नहीं कुछ दिन पहले ही झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी (JPCC) के एक पूर्व अध्यक्ष की असम के एक कद्दावर बीजेपी नेता से मुलाकात हुई थी।

यह बैठक दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल के बंद कमरे में हुई थी। उस मुलाकात के दौरान कांग्रेस नेता के बेटे भी उनके साथ थे। पार्टी सूत्रों का दावा है कि मीटिंग के बाद से कांग्रेस नेता ने खामोशी से अपनी बिसात बिछाई। उसमें प्राथमिक तौर पर कांग्रेस के पांच विधायक शामिल हुए। उनमें से तीन शनिवार देर रात कोलकाता पुलिस के हत्थे चढ़ गए।…..Bhaskar

Leave a comment