‘मिशन-2024’ पर जीत के लिए बीजेपी ने 141 मोर्चों पर तैनात किए केंद्रीय मंत्री

WhatsApp Image 2022-07-16 at 9.52.23 AM
Share

2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2019 से भी बड़ी जीत मिले, इसके लिए पार्टी ने रणनीति के तहत अभी से मिशन 2024 पर काम करना शुरू कर दिया है. पार्टी ने उन 141 सीटों पर विजयी पताका फहराने की जिम्मेदारी केंद्रीय मंत्रियों की सौंपी है, जिन पर 2019 के चुनाव में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा था. कुछ बड़े केंद्रीय मंत्रियों को छोड़कर बाकी लगभग सभी मंत्रियों को इस काम में लगाया गया है. मंत्रियों को सीटवार जिम्मेदारी दी गई है, जो अपने-अपने इलाकों में प्रवास करके और बैठकों के जरिए जीत की प्रभावी रणनीति बनाएंगे.

सूत्रों की मानें तो जिन मंत्रियों को 141 सीटों को जिताने की ज़िम्मेदारी दी गई है, वो अगले दो साल तक यानी 2024 के आम चुनाव तक इन क्षेत्रों में जाकर काम करेंगे और जीत हासिल करने की रणनीति तैयार करेंगे. सूत्र बताते हैं कि 2019 के चुनाव में उत्तर प्रदेश में हारीं 14 सीटों पर अब 2024 में पार्टी का झंडा फहराने के लिए पार्टी ने चार समूह बनाए हैं. इनमें सपा, बसपा कांग्रेस के कब्जे वाली सीटें शामिल हैं. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को सहारनपुर, नगीना और बिजनौर की जिम्मेदारी सौंपी गई है. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर रायबरेली, मऊ, घोसी, श्रावस्ती और अंबेडकर नगर की जिम्मेदारी संभालेंगे. राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह मुरादाबाद, अमरोहा और मैनपुरी का काम देखेंगे. वहीं राज्य मंत्री अन्नपूर्णा देवी को जौनपुर, गाजीपुर व लालगंज की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, यूपी के अलावा स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को पंजाब की लुधियाना, संगरूर और हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पंजाब की आनंदपुर साहिब सीट की जीत की जिम्मेदारी संभालेंगे. केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव महाराष्ट्र की बुलढाणा और औरंगाबाद की सीटें पर जीत की रणनीति बनाएंगे. वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को महाराष्ट्र में शरद पवार के गढ़ में बारामती में जिताने की ज़िम्मेदारी दी गई है.

सूत्रों का कहना है कि मध्य प्रदेश में पिछले कई दशकों से कमलनाथ के क़ब्ज़े वाली छिंदवाड़ा और छत्तीसगढ़ की कोरबा की सीटों पर पार्टी को विजय दिलाने का ज़िम्मा केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के कंधों पर है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे केरल की त्रिशूर और उत्तर प्रदेश की संभल सीट की जिम्मेदारी संभालेंगे. तेलंगाना की नलगोंडा, महबूबनगर और नगरकुरनूल सीट पर पार्टी जीत दर्ज करे, यें जिम्मेदारी महेंद्र नाथ पांडेय के ज़िम्मे है. केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला तेलंगाना की आदिलाबाद, पेडापल्ली, मेंढक व जाहिराबाद और राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल को छत्तीसगढ़ की रायगढ़ व झारखंड की गिरिडीह सीट का काम सौंपा गया है. इसके अलावा केंद्रीय मंत्री वीके सिंह तमिलनाडु में शिव गंगा, वेल्लुर, कन्याकुमारी और तिरुवल्लुर की सीटों के लिए रणनीति निर्माण से जुड़ेंगे. अन्य राज्यों की सीटों के लिए भी केंद्रीय मंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपी जा रही है.

2024 के आम चुनाव में पहले से भी बड़ी जीत मिले, इसके लिए पार्टी ने जुलाई 2022 से ही रणनीति बनाकर अमल शुरू कर दिया है. मिशन 2024 की इतने बड़े पैमाने पर तैयारी जैसी रणनीति का ही कमाल है कि विरोधी भी मानते हैं पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी हर मिनट-हर सेकेंड चुनाव जीतने के लिए मिशन मोड में रहती है….News18

Leave a comment