यूपी में मानवता शर्मसार: बेटे के शव को कंधे पर लाद 25 KM पैदल चला लाचार पिता

WhatsApp Image 2022-08-03 at 12.41.50 PM
Share

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीर सामने आई है। जिसने भी इस तस्वीर को देखा उनकी आंखे नम हो गई। यह घटना प्रयागराज से है, जहां एक मजबूर पिता अपने 14 साल के बेटे के शव को कंधों पर लेकर घर पहुंचा। दरअसल, एसआरएन अस्पताल में मंगलवार को एक लाचार पिता अपने बेटे का इलाज कराने के लिए पहुंचा था, मगर इलाज के दौरान ही बच्चे की मौत हो गई। घर ले जाने के लिए पिता ने अस्पताल प्रशासन से एंबुलेंस की व्यवस्था मांगी, जिस पर अस्पताल प्रशासन द्वारा मना किया गया। बेबस लाचार पिता अपने बेटे के शव को कंधे पर लेकर करीब 25 किलोमीटर का यह दर्दनाक सफर तय कर घर पहुंचा, बेटे के शव को ले जाते समय जब पिता थक जाता था, तो मां कंधों पर लेकर चलती थी। इस दौरान राहगीर तमाशबीन बने रहते हैं।

यूपी में मानवता शर्मसार: बेटे के शव को कंधे पर लाद 25 KM पैदल चला लाचार पिता

दूसरा मामला- उत्तर प्रदेश में इसके पहले भी एम्बुलेंस न मिल पाने की कई घटनाएं सामने आ चुकी है, लेकिन सरकार अब तक इस तरह की लापरवाही पर अंकुश नहीं लगा पायी है। कुशीनगर में एम्बुलेंस न मिलने पर अपने मृत बच्चे का शव कंधे पर लेकर अस्पताल से बाहर निकल रही महिला का वीडियो वायरल है। बताया जा रहा है कि मृत बच्चे को घर ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिला, इस वजह से महिला अपने कंधे पर लेकर गई। दरअसल, तमकुहीराज में रहने वाले वहाब अंसारी का 5 वर्षीय पुत्र खेलते समय करेंट की चपेट में आ गया। परिजन तुरंत उसे सरकारी अस्पताल ले गए। डॉक्टर ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया था। अस्पताल के कर्मचारियों ने मां से बच्चे का शव घर ले जाने के लिए कहा। इसके बाद वह कंधे पर ही बच्चे को लादकर अस्पताल से निकली। बताया जा रहा है कि शव ले जाने के लिए कोई एंबुलेंस नहीं था। इसके बाद महिला अपने बच्चे का शव बाइक पर ले गई।

Asmita Jain

Leave a comment