इंदौर: धोखाधड़ी कर करोड़ों की जमीन पर लिया लोन, किसानों ने दर्ज करवाई शिकायत

WhatsApp Image 2022-08-04 at 1.44.24 PM
Share

संवाददाता: जय सिमरिया

इंदौर: साल 2021 में पुलिस थाना किशनगंज में किसानों द्वारा धोखाधड़ी के मामले में शिकायत दर्ज कराई गई थी। फरियादी रमेश पिता बंसीलाल प्रजापत लेखराज पिता बंसीलाल प्रजापत फरियादियों ने किशनगंज थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई थी, फरियादी ने थाने पर बताया था कि मेरी जमीन पर किसी के द्वारा 5 करोड़ रुपए का फर्जी रजिस्ट्री के आधार पर लोन करवाया गया है। और बैंक द्वारा मेरी जमीन सीज की जा रही है। जब पूरे मामले की किशनगंज पुलिस ने जांच की तो साल 2018 हरीश तोलानी, जितेंद्र उर्फ जीतू वर्मा द्वारा जमीन ली गई थी। जिसमें जीतू वर्मा हरीश तोलानी ने  किसानों से सभी जमीन के पेपर लेने के वाद पावर अपने नाम करवा लिया था पावर अपने करवाने के बाद फर्जी रजिस्ट्री बनवाई। फर्जी रजिस्ट्री में किसानों के द्वारा प्रमोद शर्मा को यह जमीन विक्रय बताते हैं और उसी रजिस्ट्री के आधार पर साल 2019  के जनवरी-फरवरी में भारतीय स्टेट बैंक पोलो ग्राउंड के द्वारा इस जमीन पर 5 करोड़ का लोन सेंशन हो जाता है, जबकि प्रमोद शर्मा को इस पूरे मामले कि किसी भी प्रकार से कोई जानकारी तक नही होती है, व किसी प्रकार के दस्तावेजों व पेपरों पर किसी भी प्रकार से कोई हस्ताक्षर मौजूद नहीं होते हैं।

 

किशनगंज पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि आरोपी हरीश तोलानी और जितेन उर्फ जीतू वर्मा के द्वारा भी थाना तिलक नगर क्षेत्र में आशीष अग्रवाल के साथ धोखाधड़ी की थी। इसमें आशीष अग्रवाल के नाम से एक ही जमीन पर दो रजिस्ट्री करवा कर दो अलग-अलग बैंकों से करोड़ो रुपए के फर्जी लोन जितेंद्र उर्फ जीतू वर्मा के द्वारा पास करवाए गए। LIC बैंक ढक्कन वाला कुआं से 1 करोड़ 70 लाख रुपए का लोन पास कराया गया। दूसरा लोन साउथ इंडियन बैंक विजयनगर से 1 करोड़ 82 लाख रुपए का लोन लिया गया है।

आरोपी जितेंद्र उर्फ जीतू वर्मा द्वारा मध्यमवर्गीय लोगों के साथ धोखाधड़ी की काफी शिकायतें इंदौर शहर के तमाम अलग-अलग पुलिस थानों में दर्ज है। आरोपी जितेंद्र उर्फ जीतू वर्मा के द्वारा एक गिरोह संचालित कर बैंकों में सेटिंग कर फर्जी लोगों को पास कराया जाता है। इससे साफ पता चलता है कि इसमें बैंकों के कर्ता-धर्ता बस जिम्मेदार अधिकारी भी जितेंद्र उर्फ जीतू वर्मा के साथ मिले हुए हैं।

वर्तमान में आरोपी जितेन्द्र उर्फ जीतू वर्मा किशनगंज थाना पुलिस के कुछ दिनों के रिमांड पर चल रहा है। आरोपी से पुलिस पूछताछ करने में लगी है और आरोपी के गिरोह का पता लगा रही है, गिरोह में कितने लोग शामिल हैं और किन-किन बैंकों के कर्ताधर्ता जिम्मेदार अधिकारी भी शामिल हैं।

Leave a comment