इंदौर: PSC के परिणाम का साढ़े तीन साल से अता पता नहीं, विरोध में सड़कों पर उतरे सैकड़ों अभ्यर्थी

WhatsApp Image 2022-08-05 at 12.52.39 PM
Share

मप्र लोकसेवा आयोग (पीएससी) की परीक्षाओं के परिणाम साढ़े तीन साल से अटके हैं। ओबीसी आरक्षण के लंबित विवाद का निर्णय नहीं आने के चलते पीएससी परीक्षाओं के नतीजे घोषित नहीं कर रहा। उम्मीदवार इंतजार में समय बर्बाद होता देख रहे हैं। नतीजों में देरी से परेशान उम्मीदवार शुक्रवार को इंदौर में विरोध प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतर गए। पांच से सौ ज्यादा अभ्यर्थी तिरंगा रैली निकालते हुए पीएससी मुख्यालय का घेराव करने निकल पड़े।

राज्यसेवा परीक्षा 2019 के साथ ही राज्यसेवा परीक्षा 2020 और 2021 के नतीजे भी पीएससी ने अब तक घोषित नहीं किए हैं। 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण पर स्थिति साफ नहीं होने के कारण पीएससी ने परीक्षा तो करवा ली लेकिन रिजल्ट घोषित नहीं कर रहा। उम्मीदवारों के अनुसार पीएससी की परीक्षाओं की तैयारी करने वाले और भाग लेने वाले ज्यादातर विद्यार्थी इंदौर से बाहर के हैं। मध्यमवर्गीय परिवारों के ये अभ्यर्थियों के पढ़ाई का खर्च अब घरवालों ने भेजना भी बंद कर दिया है। पीएससी रिजल्ट नहीं दे रहा। नतीजा कई उम्मीदवार इंतजार में ही आयुसीमा से बाहर और मेडिकली अनफिट हो रहे हैं। छात्राओं पर तो दोहरी मार पड़ रही है। पढ़ाई छुड़वाकर परिवार वाले उनकी शादियां करवा रहे हैं।…Naidunia

Leave a comment