मप्र: स्टीयरिंग फेल होने से यात्रियों से भरी बस नर्मदा नदी में गिरी, 14 की मौत, शिंदे का ऐलान- मृतकों के परिजनों को 10 लाख रूपए की सहायता

WhatsApp Image 2022-07-18 at 1.45.08 PM
Share

मध्य प्रदेश के धार-खरगोन की सीमा पर स्थित खलघाट पर एक यात्री बस नर्मदा नदी में गिर गई है। हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा सहित कई मंत्रियों ने दुख जताया है। मिश्रा ने बताया कि बस में कुल 14 लोग सवार थे। सभी 14 की मौत हो गई। सभी मृतकों की पहचान भी कर ली गई है। बताया जा रहा है कि बस का स्टीयरिंग फेल होने की वजह से हादसा हुआ। महाराष्ट्र के CM एकनाथ शिंदे ने ऐलान किया कि बस हादसे में मृतकों के परिजनों को 10 लाख की सहायता दी जाएगी।PM मोदी ने जताया दुख 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, मध्य प्रदेश के धार में हुआ बस हादसा दुखद है। मेरी संवेदनाएं उनके साथ हैं जिन्होंने अपनों को खोया है। बचाव कार्य जारी है और स्थानीय अधिकारी प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं।

सीएम शिवराज ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को दी जानकारी
इस हादसे पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार नजर बनाए हुए हैं। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से फोन पर चर्चा की। उन्हें MP सरकार की तरफ से किए जा रहे प्रयासों से अवगत कराया गया। महाराष्ट्र के यात्रियों के शवों को ससम्मान भेजने की व्यवस्था करने के संबंध में भी जानकारी दी। CM शिवराज ने ट्वीट में लिखा है, ”खरगोन के खलघाट में बस के खाई में गिरने से हुई दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।”

‘दुर्घटना स्थल पर जिला प्रशासन की टीम मौजूद है। बस को निकाल लिया गया है। खरगोन, धार जिला प्रशासन के साथ मैं निरंतर संपर्क में हूं। घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। दु:ख की इस घड़ी में पीड़ित परिवार स्वयं को अकेला न समझे, मैं व संपूर्ण प्रदेश साथ है।

Leave a comment