इंदौर के 24वें महापौर बने पुष्यमित्र भार्गव, संकल्प लिया- इंदौर को बनाएंगे ट्रैफिक में रोल मॉडल

WhatsApp Image 2022-08-06 at 9.59.11 AM
Share

इंदौर के 24वें महापौर के रूप में पुष्यमित्र भार्गव ने शुक्रवार को शपथ ली। कार्यक्रम में नवनिर्वाचित महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने भगवत गीता के साथ संविधान और नगर निगम अधिनियम की पुस्तक पर हाथ रखकर शपथ ली, कि- मैं पुष्यमित्र राजेंद्र भार्गव, ईश्वर की शपथ लेता हूं कि…इंदौर को ग्रीन सिटी बनाऊंगा। यातायात की समस्या दूर करूंगा। जलजमाव से निजात दिलाऊंगा। स्वच्छता का सम्मान बरकरार रखूंगा। शहर को अतिक्रमण मुक्त करूंगा। निगम के विकास कार्य समय से पूरे कराऊंगा। नगर निगम को भ्रष्टाचार से मुक्त करूंगा। पीली गैंग के आतंक का भय समाप्त करूंगा। इंदौर का गौरवशाली वैभव लौटाऊंगा।

महापौर पुष्यमित्र भार्गव के साथ भाजपा के 64 और 2 निर्दलीय पार्षद सहित कुल 66 पार्षदों ने शपथ ली। कार्यक्रम में नगरीय विकास व आवास मंत्री भूपेंद्रसिंह, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव भी शामिल हुए।

कार्यक्रम में महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने कहा कि हमारा सौभाग्य है, कि अहिल्या नगरी की सेवा करने का अवसर हमें जनता ने दिया है। इंदौर नगर पालिका निगम के महापौर के रूप में मैंने शपथ ली है, ये शपथ नहीं है, बल्कि जनता के प्रति हमारे दायित्वबोध का प्रतीक है। एकात्म मानववाद हमारी पार्टी का मूलमंत्र है, केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार इसी मूलमंत्र को लेकर काम कर रही है, हमारी निगम परिषद भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के सपने को साकार करने के लिए गरीब व्यक्ति के कल्याण और उत्थान के लिए कार्य करेगी। यदि राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर ले जाना है, तो अंतिम व्यक्ति का कल्याण सुनिश्चित करना हमारी जवाबदारी है। हमारी निगम परिषद इसके लिए कृत संकल्पित है।निगम में हमारी परिषदें रही हैं। हमारे महापौरों ने इंदौर के विकास को सुनिश्चित करते हुए इंदौर को प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के सबसे सुंदर शहरों में शामिल करवाने का काम किया है। स्व. राजेन्द्र धारकर, स्व. श्री वल्लभ शर्मा, स्व. लालचंद मित्तल, स्व. मधुकर वर्मा और आज जो हम इंदौर का स्वरूप देख रहे है, उसमें वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय, डॉ. उमाशशि शर्मा, कृष्णमुरारी मोघे, मालिनी गौड़ के नेतृत्व में निगम परिषदों ने इंदौर के विकास को आगे बढ़ाने का काम किया है।

ये नेता नहीं हुए शामिल-
समारोह में पार्टी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय विदेश में होने के कारण शामिल नहीं हो सके। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल नहीं हुए। सांसद शंकर लालवानी भी लोकसभा सत्र के चलते शामिल नहीं हो सके।

Leave a comment