पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाला: अर्पिता मुखर्जी की गिरफ्तारी के बाद घर से 4 लग्जरी कारें गायब, अधिकारी जांच में जुटे

WhatsApp Image 2022-07-29 at 11.52.25 AM
Share

पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय यानी ED की जांच लगातार जारी है. इस बीच एक अहम खबर सामने आई है कि अर्पिता मुखर्जी के डायमंड सिटी आवास से गिरफ्तारी के बाद से चार लग्जरी कारें गायब हैं. इनमें 2 कारें पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के नाम हैं. ऑडी A4, होंडा सिटी, होंडा सीआरवी और मर्सिडीज बेंज गायब हो गई हैं.

प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी CCTV फुटेज से ब्योरा जांच कर रहे हैं. यहां तक ​​कि ईडी अधिकारियों ने अर्पिता के बेलघरिया फ्लैट्स से सीसीटीवी डिटेल्स भी मांगी है.

कई और संपत्तियों का खुलासा
पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर ईडी ने गुरुवार को पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी से काफी देर तक पूछताछ की थी. दोनों से अलग-अलग मैराथन पूछताछ की गई. ईडी के सूत्रों के मुताबिक पूछताछ में कई अन्य संपत्तियों की लोकेशन मिली है. बेलघरिया में पिछले दो फ्लैटों के अलावा दो और फ्लैट मिले हैं. ईडी सूत्रों ने बताया कि उन्हें सील कर दिया गया है.

माणिक भट्टाचार्य फिर तलब
वहीं, पश्चिम बंगाल के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी के ओएसडी सुकांत आचार्य को भी गुरुवार को पूछताछ के लिए बुलाया गया था. वो कल शारीरिक बीमारी का हवाला देकर नहीं आये. बुधवार को 14 घंटे की मैराथन पूछताछ के बाद माणिक भट्टाचार्य को आज फिर तलब किया गया. उन्हें सुबह ग्यारह बजे ईडी दफ्तर बुलाया गया है. वहीं, पार्थ चटर्जी और अर्पिता मुखर्जी को आज नियमित मेडिकल जांच के लिए जोका ईएसआई अस्पताल ले जाया जाना है.

रियल एस्टेट कंपनियों में लगाए गए पैसे?
अर्पिता मुखर्जी के तीन ठिकानों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने छापेमारी की थी, लेकिन कहीं से कुछ नहीं मिला. बुधवार को बेलघरिया में हुई छापेमारी में बड़ी संख्या में कैश और सोने के अलावा ईडी को रियल एस्टेट कंपनियों के कागज़ात भी मिले हैं, जिससे पता चलता है कि पश्चिम बंगाल एसएससी स्कैम के पैसे रियल एस्टेट कंपनियों में लगाए जा रहे थे….abplive

Leave a comment